बॉलीवुड में भूचाल, संजय होंगे कांग्रेस में शामिल, लेकिन…

0

1. सुनील दत्त ताउम्र रहे कांग्रेस के साथ

संजय दत्त के पिता सुनील दत्त और माँ नरगिस राजनीति में भी अच्छा नाम कमा चुके हैं। उन्होंने 1984 में कांग्रेस पार्टी के टिकट पर मुम्बई उत्तर पश्चिम लोक सभा सीट से चुनाव जीता और सांसद बने। वे यहाँ से लगातार पाँच बार चुने जाते रहे। मनमोहन सिंह की सरकार में 2004 से 2005 तक वे खेल एवं युवा मामलों के कैबिनेट मंत्री रहे।

2. संजय दत्त के राजनीति में आने पर हो रही कयासबाजी

संजय दत्त के बारे में भी कई बार अटकले लगती रही हैं कि वह राजनीति में आ सकते हैं। लेकिन अभी तक संजय दत्त के राजनीतिक करियर की शुरुआत नहीं हुई है। हालांकि उनकी छोटी बहन कांग्रेस के साथ जुडी हुई हैं और संजय सतत ने उनके लिए कई बार चुनाव प्रचार भी किया है।

3. विवादित फ़िल्मी करियर बनता है मुसीबत

माना जाता है कि संजय दत्त के विवादित फिल्मी करियर के चलते राजनीति में उनका आना मुश्किल पैदा करता है। इससे पहले संजय समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ने वाले थे। लेकिन उन्हें उस दौरान कोर्ट ने सजा सुना दी थी। जिसके चलते उनके राजनीति में आने पर विराम लग गया था।

4. आप की अदालत में पहुंचे संजय दत्त ने की कांग्रेस की तारीफ़

हाल ही में संजय दत्त ने इंडिया टीवी के मशहूर शो आप की अदालत में शिरकत की थी। जहां शो एंकर रजत शर्मा ने उनके राजनीति में आने पर सवाल पूछे थे जिसका जवाब संजय दत्त ने बखूबी देते हुए कांग्रेस पार्टी की जमकर तारीफ की।

5. कहा- मेरे खून में है कांग्रेस

आप की अदालत में संजय दत्त ने रजत शर्मा के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस उनके खून में है उनके माता-पिता भी कांग्रेस से राज्यसभा सांसद रह चुके हैं और उनकी बहन प्रिया दत्त भी कांग्रेस से जुड़ी हुई हैं। अगर कभी भी उन्हें राजनीति में आने का मौका मिलेगा तो वह कांग्रेस में ही जाना पसंद करेंगे।

निष्कर्ष:

आपको बता दें कि जिस वक्त संजय दत्त पर टाडा का केस लगा था। उस दौरान सुनील दत्त कांग्रेस के राज्यसभा सांसद थे और उनके परिवार का गांधी परिवार के साथ काफी करीबी रिश्ता रहा है।

देखिये वीडियो:-

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here